समाचार

भाजपा देश के बेहतरीन संस्थानों को खोखला कर बेचने का काम कर रही: प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर तंज कसा। प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘जहां डाल-डाल पर सोने की चिड़िया करती है बसेरा, वो भारत देश है मेरा। हमारे संस्थान हमारी शान हैं। ये ही हमारी ‘सोने की चिड़िया’ हैं। भाजपा ने वादा तो देश बनाने का किया था, लेकिन काम भारत के बेहतरीन संस्थानों को खोखला कर उन्हें बेचने का कर रही है। दुखद।’’

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 16 नवंबर को एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा था कि भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और एयर इंडिया को मार्च 2020 तक बेचने की योजना है। सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने पिछले साल भी एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचने की कोशिश की थी, लेकिन शर्तों के मुताबिक कोई खरीदार नहीं मिला..

images

https://www.bhaskar.com/national/news/priyanka-gandhi-on-nirmala-sitharaman-for-bjp-making-india-selling-best-organisations-01691111.html?ref=ht

उत्तर प्रदेश प्रियंका गांधी ने पूछा- उत्तर प्रदेश सरकार में ये ‘ऊपर वाला’ कौन है

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने घोटालेबाज बिल्डर को बचाने के लिए पुलिस अधिकारी को धमकाने वाली उत्तर प्रदेश की मंत्री स्वाति सिंह के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने को लेकर योगी सरकार की आलोचना की है। प्रियंका ने रविवार को ट्वीट कर कहा, ‘यूपी में भाजपा सरकार की मंत्री बोलती हैं कि ऊपर से आदेश है, घोटालेबाजों पर कोई कार्रवाई नहीं होगी। ये ‘ऊपर’ कौन है जो चाहता कि घोटालेबाजों पर कार्रवाई न हो। डीएचएफएल-पीएफ घोटाला, सिडको-पीएफ, होमगार्ड वेतन घोटाला, एलडीए घोटाला। इन सारे घोटालों में बड़ी मछलियों पर कार्रवाई नहीं हो रही है..

images

https://www.livehindustan.com/uttar-pradesh/story-priyanka-gandhi-asked-who-is-this-uparwala-in-uttar-pradesh-government-2854203.html

प्रियंका गांधी का हमला, कहा-’कर्मचारियों के पीएफ के पैसे का हिसाब यूपी सरकार को देना होगा’

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर हमला करते हुए लिखा कि उप्र बिजली विभाग के कर्मचारियों ने साफ कह दिया है कि उन्हें DHFL पर जरा भी विश्वास नहीं है।
उनके PF के पैसे का हिसाब सरकार को देना होगा। भाजपा सरकार जिम्मेदारी लेने से इतना कतरा क्यों रही है? कर्मचारियों को घर में शादी, बच्चों की पढ़ाई और अन्य कामों के लिए पैसे चाहिए।

images

https://www.amarujala.com/delhi-ncr/congress-secretary-priyanka-gandhi-attacked-on-yogi-government-about-up-pf-scam

कांग्रेस अध्यक्ष ने CM योगी कोयले का दाम कम करने के लिए लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सूबे के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की बदहाली पर पत्र लिखकर अवगत कराया और तत्काल प्रभाव से अनिमितताओं को दूर करने की मांग की. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भेजे गए पत्र में कहा कि सूबे में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की हालत बहुत खराब है.
सूबे के व्यापारी बाज़ार के दाम से अधिक मूल्य पर कोयला खरीदने पर मजबूर हैं. व्यापारियों को सही दाम पर कोयला न मिलने के कारण सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग को करीब 2000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. उन्होंने मांग की कि तत्काल प्रभाव से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय में कोयले के टेंडर में अनिमितताओं को तत्काल दूर किया जाए.
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि प्रदेश सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग से जुड़े लोगों का कारोबार खत्म होने के कगार पर है. 16 हज़ार ईट भठ्ठे बंद होने के कगार पर हैं. करीब 40 हज़ार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहा है.
लेकिन सरकार व्यापारियों के हितों को लेकर लगातार असंवेदनशील बनी हुई है. उन्होंने कहा कि सरकार की असंवेदनशीलता के चलते लाखों परिवारों की रोजी रोटी पर संकट खड़ा है. कांग्रेस पार्टी व्यापारियों के साथ सड़क से लेकर सदन तक लड़ाई लड़ने को तैयार है..

ajay-kumar-lallu

https://www.newsstate.com/states/uttar-pradesh/congress-president-ajay-kumar-lallu-writes-letter-to-cm-yogi-to-reduce-coal-prices-114744.html

NCRB : देश में महिलाओं के खिलाफ सर्वाधिक अपराध यूपी में, साइबर क्राइम, दलित उत्पीड़न भी सबसे ज्यादा

नेशनल क्राईम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने मंगलवार को साल 2017 का आपराधिक डेटा जारी किया है। जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार यूपी में महिलाओं के खिलाफ सबसे ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। साल 2016 में महिलाओं के खिलाफ दर्ज होने वाले मामलों की संख्या 49 हजार 262 थी, जो साल 2017 में बढ़कर 56 हजार 11 हो गई।

एनसीआरबी के अनुसार देश के कुल दर्ज होने वाले मामलों में करीब 14 फीसदी उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए। हलांकि हत्या के मामलों में कमी दर्ज की गई है। साल 2016 में हत्याओं के करीब 4889 मामले दर्ज किए गए, वहीं 2017 में 4324 मामले ही प्रकाश में आए।

साथ ही दलित उत्पीड़न के भी सबसे ज्यादा मामले भी यूपी में ही दर्ज किए गए है। साल 2016 में एसटीएसीट के खिलाफ करीब 10 हजार 426 ऐसे मामले दर्ज हुए, जो साल 2017 में बढ़कर 11 हजार 444 हो गए।

साइबर क्राइम के भी सबसे ज्यादा मामले यूपी में ही दर्ज किए गए। 2016 में साइबर अपराध के करीब 2639 मामले दर्ज किए गए, जो 2017 में दोगुने होकर 4971 हो गए। वहीं देश में दर्ज होने वाले कुल अपहरण के 20.8 फीसदी मामले भी उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए।

646-1441586147_835x547

https://www.amarujala.com/lucknow/crime-against-women-maximum-in-up-ncrb-reveals-crime-data-for-2016-2107