समाचार

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के 43 शहर व जिला अध्यक्ष घोषित, फिर दिखी जातीय संतुलन बनाने की कोशिश

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में जिला स्तर पर बड़े बदलाव करते हुए मंगलवार को जिला व शहर अध्यक्षों की तीसरी सूची जारी कर दी है। कई दिन के इंतजार के बाद कांग्रेस ने आखिरकार 43 जिला व शहर अध्यक्षों की और घोषणा कर दी है। इस सूची में 29 शहर और 14 जिलाध्यक्ष शामिल हैं। इसमें भी पार्टी ने जातीय संतुलन के साथ ही ऊर्जावान और मेहनती कार्यकर्ताओं को संगठन में तरजीह का संदेश दिया है।

यह सूची पार्टी महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने जारी की है। उनका कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने उत्तर प्रदेश में जिला कांग्रेस समितियों व शहर कांग्रेस समितियों के अध्यक्षों के रूप में पार्टी के पदाधिकारियों की नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

download

https://www.jagran.com/politics/state-uttar-pradesh-congress-committee-declared-43-more-district-and-city-president-19873401.html

बिजनौर में हिंसा पीड़ित परिवारों से मिलीं प्रियंका गांधी, CAA और NRC को बताया गरीब विरोधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को अचानक उत्तर प्रदेश के बिजनौर पहुंचीं और संशोधित नागरिकता कानून को लेकर हाल में हुई हिंसा में मारे गए दो व्यक्तियों के परिवारों से मुलाकात की। परिवार से मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि यहां पर कई लोगों की जानें गई हैं। सबके सब गरीब-मजदूर घर के लोग थे। अब इनके परिवार में कमाने वाले नहीं बचे हैं। छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनका ख्याल रखने वाला कोई नहीं है।

उन्होंने जांच की मांग करते हुए कहा कि इनकी मौतें कैसे हुईं? कई लोगों की मौतें हुईं हैं, कई लोग अस्पताल में हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से उनके घर कोई आया तक नहीं। किसी ने उनकी बात नहीं सुनी। आज समय इनकी बात सुनने का है। इनको गले लगाकर इस दुख की घड़ी में इनका साथ देने का है। उन्होंने कहा कि आज जिस कानून की एकदम जरूरत नहीं है, वैसा कानून लाया जा रहा है। भयंकर बेरोजगारी है। अर्थव्यवस्था पूरी तरह ढह चुकी है।

भाजपा सरकार के लोग इन समस्याओं का हल देने की बजाय हर भारतीय से कह रहें हैं कि साबित करो कि तुम भारतीय हो। जिन्होंने इस मिट्टी के लिए इतना कुछ किया उन सबसे बोला जाएगा कि इस मिट्टी से अपना रिश्ता साबित करो। ये कानून एकदम गरीब विरोधी है। गरीब इतने पुराने कागज कहाँ से लाएगा? सरकार फिर उसको लाइन में लगा लगा देगी..

priyanka_gandhi_1577026249

https://www.livehindustan.com/national/story-priyanka-gandhi-vadra-in-bijnor-meets-the-family-of-anas-who-died-during-protests-against-caa-2915920.html

उप्र / कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का दावा- लखनऊ में हुई हिंसा में भाजपा के लोग शामिल थे, मृतकों के परिवार को मिले 25 लाख

नागरिकता कानून के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान उत्तर प्रदेश में 16 लोगों की जान गई है। कांग्रेस ने इन सभी के परिवारों को 25 लाख रुपए आर्थिक सहायता देने की मांग की है। रविवार को प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा- उत्तर प्रदेश हिंसा की आग में जल रहा है। आरोप लगाया कि, हिंसा भड़काने के लिए भाजपा के लोग प्रदर्शनों में शामिल थे।
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- कांग्रेस प्रवक्ता सदफ जाफर गुरुवार को लखनऊ में वीडियो बना रही थीं, लेकिन पुलिस ने उन्हें भी गम्भीर धाराओं में जेल में डाला है। कानपुर, लखनऊ, बुलन्दशहर सहित पूरा प्रदेश जल रहा है। हमने राज्यपाल को पत्र लिखा है कि, जिन्हें जेल में डाला गया है, उन्हें रिहा किया जाए। जो मृत हुए हैं, उनके परिवार को 25 लाख रूपए दिए जाएं। जो घायल हैं, उनके इलाज का समुचित प्रबन्ध हो।

अजय कुमार ने भाजपा सरकार पर हमला करते हुए कहा- मुख्यमंत्री किससे बदला लेना चाहते हैं? पूरा आंदोलन जो अहिंसक चल रहा था, उसमें हिंसा भड़काने के लिए भजापा के लोग शामिल थे। मुख्यमंत्री का पुराना संगठन बिना अनुमति के एक विशेष वर्ग के खिलाफ नारा लगा कर प्रदर्शन कर रहा था। उसे परमिशन किसने दी?

कहा- कांग्रेस पार्टी लगातार एनआरसी, सीएए का विरोध कर रही है और आगे भी जारी रहेगी। जो कानून जनमानस के खिलाफ है, उसे लागू नहीं होने देंगे। भाजपा क्या भारत को प्रयोग शाला बनाना चाहती है। आखिर इस सरकार का बेरोजगारी, महिलाओं और किसानों से क्यों नही लेना देना है। बस इस देश के लोगों को लाइन में लगाकर प्रताड़ित किया जा रहा है। पहले नोटबन्दी में लाइन, फिर जीएसटी में लाइन और अब नागरिकता का प्रमाण पत्र देना होगा। वह गरीब कैसे प्रमाण देगा, जो आबादी की जमीन पर बसा है। यह सरकार जाति और धर्म पर बांटना चाहती है।

pc

https://www.bhaskar.com/uttar-pradesh/lucknow/news/citizenship-amendment-bill-2019-congress-state-pressident-ajay-kumar-lallu-statement-on-voilence-protest-in-uttar-pradesh-126353878.html

प्रधानमंत्री मोदी पर प्रियंका गांधी का वार, पूछा- देश के PM हैं या बंटवारे के?

झारखंड विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा प्रचार में उतरी हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री को चुनौती देती हूं कि सीएनटी एसपीटी पर बोलिए, दुष्‍कर्म पर बोलिए, गायब रोजगार पर बोलिए. झारखंड की धरती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से कांग्रेस को दी गई चुनौती का जवाब देते हुए प्रियंका ने कहा कि आप देश के प्रधानमंत्री हैं या बंटवारे के प्रधानमंत्री हैं, इस पर बोलिए. प्रियंका ने कहा कि बीजेपी सरकार और पीएम मोदी हर मोर्चे पर फेल हो चुके हैं. अपनी खामियों को छिपाने के लिए कांग्रेस का बहाना बनाते हैं.

झारखंड के पाकुड़ में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमले किए. प्रियंका गांधी ने कहा कि जल-जंगल-जमीन आपकी है. आप सिद्हो कान्‍हो की धरती से हैं. ये चुनाव झारखंड के अस्तित्‍व बचाने का चुनाव है. बीजेपी की सरकार आपकी आत्‍मा पर हमला कर रही है. भाजपा अंधी हो चुकी है, आदिवासी संस्‍कृति पर वार कर वह आपको बर्बाद करना चाहती है.

भाजपा आदिवासियों की जमीन छिन रही है- प्रियंका

प्रियंका ने अपनी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि इंदिरा जी ने आजीवन आपके लिए काम किया. उनकी कल्‍याणकारी योजनाओं से गरीबों का भला हुआ. उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार जमीन छिनने में लगी है. प्रियंका ने कहा कि भाजपा ने सीएनटी-एसपीटी एक्‍ट का दुरुपयोग किया. जबकि, इंदिरा गांधी ने आदिवसियों की जल, जंगल जमीन को सुरक्षित रखने के लिए संघर्ष किया और बीजेपी की सरकार उनकी जमीनों को छिनकर अपने दोस्तों को देना चाहती है और उनके लिए लैंड बैंक बना रही है. दरअसल CNT- SPT एक्ट आदिवासियों की भूमि के लिए बनाया हुआ एक कानून है.

प्रियंका ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में आदिवासी भाई बहनों की निर्मम हत्‍या की गई. वहां बीजेपी ने जमीन लेने के प्रयास में खूब खून खराबा हुआ. मुझे पीड़ितों से मिलने नहीं दिया गया, 24 घंटे तक हमें एक किले में बंद कर दिया. लेकिन मैं पीछे नहीं हटी और पीड़ितों से मिली और उनके दर्द को बांटा. इसे मैंने इंदिरा गांधी से सीखा है.

अपनी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनौती का जवाब देते हुए प्रियंका गांधी ने पलटवार किया. प्रियंका गांधी ने कहा कि रोजगार से लेकर महंगाई हर मोर्चे पर पीएम मोदी फेल हो गए हैं और रोज नया कानून ला रहे हैं. प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी को चर्चा करने तक की चुनौती दे दी.

प्रियंका गांधी ने देशभर में हो रहे दुष्‍कर्म पर कहा कि ये लोग महिलाओं की सुरक्षा के प्रति गैर जवाबदेह हैं. बीजेपी के एक विधायक ने यूपी के उन्नाव में एक बच्ची का बलात्कार किया. बीजेपी के लोग उस पर कार्रवाई करने के बजाय उसे बचाने में लगे हुए थे. झारखंड में एक दुष्‍कर्म के आरोपी के साथ प्रधानमंत्री मोदी मंच साझा करते हैं. लेकिन मोदी जी इन सब पर कुछ नहीं बोलते हैं.

प्रियंका ने कहा कि मोदी सरकार नौकरी देने में फेल हुई है. यह सरकार अपनी नाकामियों के लिए कांग्रेस पर ठीकरा फोड़ रही है. सच्‍चाई ये है कि भाजपा ने पांच साल में आपको कुछ नहीं दिया. यह जिम्‍मेदारी प्रधानमंत्री की है. ये सिर्फ खोखले भाषण करते हैं. अर्थव्‍यवस्‍था ठप हो गई है, अब ये नए कानून लाकर लोगों को बरगला रहे हैं.

एनआरसी को लेकर प्रियंका ने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि असम में 16 सौ करोड़ रुपये खर्च किए. इसके बाद भी वह फेल रहा है. देश के लाखों लोगों का उसमें नाम भी नहीं आया है. अब नया कानून लेकर आ गए, जिससे असम जल रहा है. दिल्ली में छात्र विरोध कर रहे हैं तो उन पर लाठियां बरसाई जा रही हैं. प्रियंका ने कहा कि भाजपा सरकार कुछ नहीं कर रही. आपकी बच्चियां भात-भात करके मर रही हैं. देश में आज ये हालत है कि आटा से लेकर मोबाइल का डाटा तक महंगा हो गया है.

‘भाजपा प्रचार में हीरो, काम में जीरो’

कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी ने झारखंड में 12 लाख राशन कार्ड रद्द कर दी, प्रचार में बीजेपी सरकार सुपर हीरो है, काम में जीरो है. भ्रष्‍ट सरकार से मैं पूछना चाहती हूं कि कितने युवाओं को रोजगार दिया. कितनी लोगों की गरीबी मिटाई. कितने उद्योग लगाए. बीजेपी की ये अमीरों की जेब भरने की सरकार है और जमीन लूटने की सरकार है.

प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस की सरकार गरीबों की चिंता करती है. छत्‍तीसगढ़ में 27 फीसदी आरक्षण पिछड़ों को मिल रहा है. बीजेपी के राज में पाकुड़ में 150 रुपये प्‍याज मिल रहा है. भाजपा सरकार के शासन में गरीबों से पैसा छिनकर अमीरों को दिया जा रहा है. इन्‍होंने मनरेगा को बंद कर दिया. बच्‍चों के चार हजार स्‍कूल बंद कर दिए. पारा शिक्षकों के आंदोलन को कुचला गया. आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका से ज्‍यादती की गई है. आज रेलवे और एयरपोर्ट तक को बेच रहे हैं.

images

https://aajtak.intoday.in/story/priyanka-gandhi-rally-jharkhand-assembly-election-2019-pm-modi-1-1147116.html

देश की हालत खराब, घरों से निकलिए और आंदोलन कीजिए: सोनिया गांधी

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और मोदी सरकार की विभाजनकारी नीतियों के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित कांग्रेस की भारत बचाओ रैली में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा.

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि देश की हालत बहुत गंभीर हो गई है. हमारी जिम्मेदारी बनती है कि अपने घरों से बाहर निकलें और इसके खिलाफ आंदोलन करें. देश को बचाना है तो हमें संघर्ष करना होगा. अब वक्त आ गया है कि घरों से निकलिए और आंदोलन कीजिए.

सोनिया गांधी ने कहा कि आज जब मैं किसान भाइयों की दशा देखती हूं तो बहुत तकलीफ होती है. उन्हें अपने खेतों के लिए सही समय पर बीज नहीं मिलता आसानी से खाद नहीं मिलता. पानी-बिजली नहीं मिलती. फसल के उचित दाम नहीं मिलते. हमारे कामगार भाई-बहन दिनरात मजदूरी में लगे रहते हैं.

उन्होंने कहा कि सर्दी-गर्मी की परवाह किए बिना काम करते रहते हैं. फिर भी उन्हें दो जून की रोटी नहीं मिलती. छोटे कारोबारी मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण तबाह हो गए हैं. वो बैंक कर्ज नहीं दे पा रहे, पूरे परिवार के साथ आत्महत्या करने की खबरें आ रही हैं.

सोनिया गांधी ने कहा कि मोदी-शाह का सिर्फ एक ही लक्ष्य है. उनका एक ही संकीर्ण एजेंडा है, लोगों को लड़वाओ और असली मुद्दों को छुपाओ. नाइंसाफी सहना सबसे बड़ा अपराध है. मोदी सरकार को अपनी आवाज बुलंद करके बताइए कि हम लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए कोई भी कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं. संविधान की रक्षा के लिए संघर्ष को तैयार हैं. कांग्रेस ने जनता के हित में हमेशा लड़ाई लड़ी आज भी कांग्रेस पार्टी पीछे हटने वाली नहीं. हम अपना कर्तव्य निभाते रहेंगे.

sg

https://aajtak.intoday.in/story/sonia-gandhi-ramlila-maidan-congress-bharat-bachao-rally-bjp-modi-govt-black-money-corruption-live-updates-1-1145845.html