समाचार

NCRB : देश में महिलाओं के खिलाफ सर्वाधिक अपराध यूपी में, साइबर क्राइम, दलित उत्पीड़न भी सबसे ज्यादा

नेशनल क्राईम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने मंगलवार को साल 2017 का आपराधिक डेटा जारी किया है। जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार यूपी में महिलाओं के खिलाफ सबसे ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। साल 2016 में महिलाओं के खिलाफ दर्ज होने वाले मामलों की संख्या 49 हजार 262 थी, जो साल 2017 में बढ़कर 56 हजार 11 हो गई।

एनसीआरबी के अनुसार देश के कुल दर्ज होने वाले मामलों में करीब 14 फीसदी उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए। हलांकि हत्या के मामलों में कमी दर्ज की गई है। साल 2016 में हत्याओं के करीब 4889 मामले दर्ज किए गए, वहीं 2017 में 4324 मामले ही प्रकाश में आए।

साथ ही दलित उत्पीड़न के भी सबसे ज्यादा मामले भी यूपी में ही दर्ज किए गए है। साल 2016 में एसटीएसीट के खिलाफ करीब 10 हजार 426 ऐसे मामले दर्ज हुए, जो साल 2017 में बढ़कर 11 हजार 444 हो गए।

साइबर क्राइम के भी सबसे ज्यादा मामले यूपी में ही दर्ज किए गए। 2016 में साइबर अपराध के करीब 2639 मामले दर्ज किए गए, जो 2017 में दोगुने होकर 4971 हो गए। वहीं देश में दर्ज होने वाले कुल अपहरण के 20.8 फीसदी मामले भी उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए।

646-1441586147_835x547

https://www.amarujala.com/lucknow/crime-against-women-maximum-in-up-ncrb-reveals-crime-data-for-2016-2107

प्रियंका गांधी ने महिलाओं के साथ बढ़ते अपराध पर यूपी सरकार को घेरा

रायबरेली
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को कहा कि यह बहुत ही शर्मनाक है कि पूरे देश में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों वाली सूची के राज्यों में उत्तर प्रदेश सबसे ऊपर है और मुख्यमंत्री को इस बारे में कुछ करना चाहिए।
प्रियंका अपनी मां सोनिया गांधी के लोकसभा क्षेत्र रायबरेली में नवनियुक्ति पार्टी पदाधिकारियों की तीन दिवसीय कार्यशाला में शामिल होने आज शाम यहां पहुंची । कांग्रेस महासचिव ने यूपी में खराब कानून व्यवस्था की बात करते हुए कहा, ‘यह बहुत ही शर्मनाक है कि पूरे देश में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों वाली सूची के राज्यों में उत्तर प्रदेश सबसे ऊपर है, मुख्यमंत्री को इस बारे में कुछ करना चाहिए।’

इसके पहले उन्होंने मंगलवार सुबह ट्वीट कर कहा था, ‘पूरे देश में महिलाओं पर सर्वाधिक अपराध उत्तर प्रदेश में हो रहे हैं। एक साल में 56,000 से ज़्यादा और इसमें वो घटनाएं शामिल भी नहीं है जिनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। क्या ये आंकड़ा इतना भी गंभीर नहीं कि मुख्यमंत्री जी इसका संज्ञान लेते?’ प्रियंका गांधी के इस ट्वीट के जवाब में प्रदेश सरकार के मंत्री और प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने मंगलवार शाम यहां जारी एक बयान में कहा कि विपक्ष द्वारा एनसीआरबी 2017 के अपराध आंकड़ें जनता के मध्य जिस प्रकार से प्रस्तुत किए जा रहे हैं, वह तोड़-मरोड़ कर दिए गए हैं..

images

https://navbharattimes.indiatimes.com/state/uttar-pradesh/others/priyanka-gandhi-slams-bjp-over-women-safety-in-up/articleshow/71711523.cms

दो दिनी दौर पर रायबरेली पहुंचेंगी प्रियंका वाड्रा, पार्टी को यूपी में देंगी संजीवनी

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा दो दिनी दौरे पर मंगलवार को यहां पहुंच रही हैं। वे यहां पर प्रदेश कार्यकारिणी के लिए आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन करेंगी। पार्टी को यूपी में संजीवनी देने में जुटी प्रियंका कार्यशाला में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों को केंद्र और प्रदेश सरकार की नाकामियों के खिलाफ अपनी मां सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र से बिगुल फूंकने का एलान करेंगी।
करीब दो माह बाद प्रियंका वाड्रा 22 और 23 अक्तूबर को रायबरेली के दौरे पर रहेंगी। भुएमऊ गेस्ट हाउस में रहकर संगठन के कामकाज की समीक्षा करेंगी। भुएमऊ गेस्ट हाउस में प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों के प्रशिक्षण के लिए यहां पर कार्यशाला आयोजित होने जा रही है। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की टीम कार्यशाला में प्रशिक्षण लेगी। इसमें प्रदेश अध्यक्ष समेत उनकी 45 पदाधिकारियों की टीम हिस्सा लेगी।
कहा जा रहा है कि दो सत्रों में प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव सचिन नायक और उनकी टीम की ओर से पदाधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यशाला का मकसद संगठन को किस तरह मजबूत करना है। प्रियंका के दौरे के मद्देनजर एसपीजी ने यहां पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंकज तिवारी का कहना है कि लखनऊ एयरपोर्ट से सड़क मार्ग होते हुए प्रियंका वाड्रा सुबह करीब 10 बजे भुएमऊ गेस्ट हाउस पहुंचेंगी। यहां पर प्रदेश कार्यकारिणी के लिए आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन करेंगी। इसमें पदाधिकारियों को संगठन को कैसे मजबूत बनाया जाएगा, इसका प्रशिक्षण दिया जाएगा। एसपी स्वप्निल ममगाई ने बताया कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा के दौरे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

priyanka_gandhi

https://www.amarujala.com/lucknow/priyanka-gandhi-will-reach-raebareli-tomorrow-new-members-to-get-3-day-training?pageId=1

सियासी दलों से नहीं, जनता से गठबंधन करेगी कांग्रेस: अजय कुमार लल्लू

उत्तर प्रदेश में कमजोर कांग्रेस को मजबूत करने की बागडोर अजय कुमार लल्लू को प्रदेशाध्यक्ष बनाकर दी गई है। नई जिम्मेदारी संभालने के बाद वह लगातार सक्रिय भी दिख रहे हैं। प्रदेश के हर ज्वलंत मुद्दे को लेकर मौके पर पहुंच रहे हैं और सरकार को घेरने के लिए आवाज बुलंद कर रहे हैं। शनिवार को उपचुनाव के प्रचार के लिए इगलास में रहे और मेरठ में भी कार्यकर्ताओं से बात की और कांग्रेस को खड़ा करने के लिए संघर्ष करने का जोश भरा। इस दौरान अजय कुमार लल्लू से शादाब रिजवी ने बात की-
सवाल- यूपी में बेहद कमजोर हो चुकी कांग्रेस को बतौर प्रदेशाध्यक्ष कैसे मजबूती देंगे?
जवाब- कांग्रेस कमजोर नहीं हैं, एकजुट करने की जरूरत है। उसके लिए गांव-गांव गली-गली कार्यकर्ता दस्तक देंगे। उनको कांग्रेस के शासन और गैर-कांग्रेसी सरकारों के शासन के काम में फर्क को समझाकर आगे की नीति बताकर फिर जोश भर खड़ा किया जाएगा। आने वाला वक्त कांग्रेस का है।

सवाल- जिलों में दिखने वाले गिनती के कांग्रेसियों के बल पर आपका जनाधार जुटाने का दावा धरातल पर आसानी से आ पाएगा?
जवाब- हम 2022 की तैयारी कर रहे हैं। जिला स्तर पर स्थानीय परेशानियों को एकत्र करा रहे हैं। उनको लेकर जनता के बीच जल्द जाएंगे। युवा, किसान, मजदूर, महिला, कारोबारी, व्यापारी को जोड़कर जनाधार को वापस लेकर रहेंगे। परेशान जनता कांग्रेस की तरफ उम्मीद के साथ देख रही है।

सवाल- प्रदेश कार्यकारिणी घोषित होने के बाद सेल और विभाग की इकाइयों का गठन नहीं हुआ, कई जिलों में जिलाध्यक्षों के नाम अटके हुए हैं?
जवाब- ऐसा बिल्कुल नहीं हैं। हम बहुल जल्द प्रदेश के हर सेल और विभाग की इकाई में जुझारू और निष्ठावान लोगों को शामिल कर उसकी घोषणा करेंगे। रही बात जिलाध्यक्षों की, 51 का ऐलान हो चुका है। बाकी का किसी भी दिन कर दिया जाएगा।

सवाल- यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार कानून व्यवस्था को अपनी बड़ी कामयाबी बताती है, कांग्रेस को उनके दावे में कितना दम दिखता है?
जवाब- छोड़िए, अपने मुंह मियां मिट्ठू बनने वाला दावा है। कानून व्यवस्था ध्वस्त है। जंगलराज है। कमलेश तिवारी की राजधानी में हत्या, मेरठ में वकील का मर्डर, बहन बेटियों के बलात्कार, बीजेपी के सांसद विधायक रेप में शामिल, फर्जी एनकाउंटर इसके सबूत हैं। ये सब सरकार के मुंह पर तमाचा है।

सवाल-यूपी में सरकार के विकास के दावे पर कांग्रेस का रुख क्या है?
जवाब- विकास के सारे दावे भी झूठे हैं। मेरठ का कैंची, हथकरधा, खेल, सहारनपुर का लकड़ी उद्योग, मुरादाबाद का ब्रास उद्योग बुरे हाल में हैं। मजदूर पलायन कर नेपाल जाने को मजबूर हैं। गैर कांग्रेसी सरकारों ने यूपी को विकास नहीं विनाश किया।

सवाल- 11 विधानसभा सीटों पर 21 को होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस खुद को कितनी मजबूत मान रही है?
जवाब- कांग्रेस मेहनत कर रही है। उनके कैंडिडेट मुख्य मुकाबले में हैं। कई सीटें जीतेंगे। एसपी-बीएसपी जनाधारविहीन हो गई हैं। बीजेपी से जनता उकता गई है। हर मोर्चे पर विफल मुख्यमंत्री सिर्फ प्रचार मंत्री बने हैं। जनता को ठगने वाले सीएम को वोट मांगने का हक नहीं है।

सवाल- उपचुनावों से प्रियंका गांधी समेत बड़े चेहरे प्रचार से दूरी बनाए हैं, इसकी वजह?
जवाब- ये सच नहीं है। मैं प्रदेशाध्यक्ष हूं, प्रचार में जुटा हूं। हमारे सीएम भूपेश बघेल और पीएल पूनिया प्रचार कर रहे हैं। यूपी के सभी नेता जी-जान एक किए हैं।

सवाल- यूपी में जगह-जगह हो रहे किसानों के आंदोलन पर कांग्रेस की क्या राय है?
जवाब- बीजेपी किसान विरोधी है। जुमलेबाज पार्टी है। उनके किसानों की जमीन कौड़ियों के भाव लेकर पूंजीपतियों को दी जा रही हैं। गन्ना भुगतान नहीं हो रहा। मिल समय से चल नहीं पा रही। खुद गन्ना मंत्री के क्षेत्र की मिलपर 250 करोड़ रुपये किसानों का बकाया है।

सवाल- बीजेपी को उखाड़ फेकने की आप बात कर रहे हैं, इसके लिए क्या गैरबीजेपी दल गठबंधन की राह चलेंगे?
जवाब- कांग्रेस आगे कभी किसी दल से गठबंधन नहीं करेगी। कांग्रेस का गठबंधन सिर्फ और सिर्फ जनता से होगा। कांग्रेस रचनात्मक लड़ाई लड़ेगी। जल्द तीस साल पुराने वाली दमदार कांग्रेस यूपी में दिखेगी।

सवाल- कांग्रेस का आने वाले वक्त में क्या प्लान है?
जवाब- कांग्रेस का चरणबद्ध जनआंदोलन का खाका तैयार है। जल्द यात्राएं, धरने प्रदर्शन करेंगे। जनता के लिए संघर्ष करेंगे। सरकार के जनविरोधी कामों के खिलाफ आवाज बुंलद कर हिसाब मांगेंगे। हम उन्नाव सोनभद्र कांड, बिजली की बढ़ी दरें, पेट्रोल डीजल और खाद्य पदार्थों की महंगाई के मुद्दे को लेकर सरकार को घेर चुके हैं। हर कांग्रेसी तिरंगा लेकर सड़क पर हक की जंग करते दिखेगा।

AKL

https://navbharattimes.indiatimes.com/metro/lucknow/politics/congress-up-president-ajay-kumar-lallu-says-party-will-not-form-alliance-with-any-party/articleshow/71662715.cms

बाराबंकी / मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने योगी पर कसा तंज, कहा- सरकार ने किसानों को खेतों का चौकीदार बना दिया

बाराबंकी. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को जैदपुर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया के पक्ष में प्रचार किया। इस दौरान बघेल ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार ने उप्र में किसानों के साथ कर्जमाफी के नाम पर धोखा किया है। हालत यह है कि सरकार के रवैये की वजह से आज किसान रातभर जागकर अपने खेतों की रखवाली करने के लिए मजबूर है।

एक जनसभा को संबोधित करते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ में किसानों के जो भी वादा किया था, उसे पूरा किया। लेकिन उत्तर प्रदेश में सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया। खुद को देश का चौकीदार कहने वाले लोगों ने किसानों को उनके खेतों का चौकीदार बना दिया।

किसान रातभर जागकर खेतों की रखवाली करता है
बघेल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के सारे किसान छुट्टा जानवरों से परेशान होकर रातभर जागकर अपने खेतों की रखवाली करते हैं। भाजपा छत्तीसगढ़ में पंद्रह सालों में जो नहीं कर पाई वह हमने किया है। लेकिन उत्तर प्रदेश में किसानों का कर्ज माफ करने के नाम पर उनके साथ धोखा हुआ है। प्रदेश के सारे किसान परेशान हैं. किसानों को उनकी फसलों का सही दाम नहीं मिल रहा।

कांग्रेस शासित राज्यों में मंदी का कोई असर नहीं पड़ेगा
भूपेश बघेल ने कहा कि प्रदेश में बिजली के दाम बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस की सरकार है, वहां मंदी का कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन भाजपा सरकार में बेरोजगारी बढ़ रही है। भाजपा सरकार के पास नौजवानों को देने के लिये पैसे नहीं हैं।

उप्र में में कांग्रेस का झंडा लहराएगा- प्रमोद तिवारी
वहीं प्रमोद तिवारी ने कहा कि जैसे भूपेश बघेल और पीएल पुनिया ने मिलकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का झंडा लहराया था। वैसे ही दोनों मिलकर यहां भी कांग्रेस को जीत दिलाएंगे। जब से प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आई है, तब से किसान छुट्टा जानवरों से परेशान हैं। भाजपा वाले केवल लंबी-लंबी बातें करते हैं लेकिन जमीन पर कुछ भी नजर नहीं आता।

bkk

https://www.bhaskar.com/uttar-pradesh/lucknow/news/cm-bhupesh-baghel-said-the-government-made-the-farmers-watchman-of-the-fields-01667305.html