समाचार

धर्म और जाति-पात की बात करने वालों के भड़कावे में न आये जनता: प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने किसी पार्टी का नाम लिये बिना कहा कि लोगों को धर्म और जाति-पात की बात करने वालों के भड़कावे में नही आना चाहिये।
वाड्रा शनिवार दोपहर साढ़े बारह बजे कानपुर के अहिरवां एयरपोर्ट पर विशेष विमान से उतरने के बाद फतेहपुर के औंग में आयोजित जनसभा स्थल पर पहुंची। यहां पर सबसे पहले उन्होंने महिला संवादी कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने कहा कि धर्म और जाति पात की बात करने वालोें से जनता को सावधान रहने की जरूरत है।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि धर्म और जाति पात की बात करने वालों के भड़काने में न आये। आप पहले पार्टियों में अंतर समझिए। समझिये की आपकी भलाई किसमें है। धर्म और जाति पात के नाम पर लड़ने से देश पिछड़ जायेगा। इसमें सबका बिगाड़ होता है। सबका हक सभी को मिलना चाहिए तभी सब आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि अपनी सूझबूझ से आप अपना वोट डालने जाएं। कांग्रेस ने हर गरीब महिला के खाते में 72 हजार रुपये भेजने की बात की है। कांग्रेस का साथ दीजिए और फालतू बोलने वालों से कहिए अपना रास्ता नापो।

इससे पहले कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा का विशेष विमान दोपहर 12:25 पर कानपुर के अहिरवां एयरपोर्ट पर पहुंची। कानपुर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल, अकबरपुर सीट से प्रत्याशी राजाराम पाल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री, नगर ग्रामीण अध्यक्ष संजीव दरियाबादी, देहात अध्यक्ष नीतम सचान ने श्रीमती वाड्रा से मुलाकात की।

priyanka_gandhi

https://www.sabguru.com/priyanka-gandhi-calls-people-id-not-get-angry-about-talk-of-religion-and-caste/

जिन्हें भारत की विविधता स्वीकार नहीं, उन्हें आज देशभक्त बताया जा रहा है: सोनिया गांधी

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर जोरदार हमला किया है। अब तक चुनाव प्रचार से दूर रहीं सोनिया गांधी ने पार्टी के एक कार्यक्रम में मोदी सरकार पर संस्थाओं को खत्म करने का आरोप लगाया। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो संविधान की मूल भावना को बहाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस समय देशभक्ति की नई परिभाषा सिखाई जा रही है और विचारधारा के आधार पर अपने ही नागरिकों से भेदभाव हो रहा है।
कांग्रेस के ‘जन सरोकार 2019′ कार्यक्रम में सोनिया गांधी ने कहा, ‘कुछ साल पहले हम यह सोच भी नहीं सकते थे कि हमें ऐसे हालात में यहां इकट्ठा होना पड़ेगा। पिछले कुछ समय से हमारे देश की मूल आत्मा को एक सोची समझी साजिश करके जिस तरह कुचला जा रहा है वह हम सभी के लिए बेहद चिंता की बात है। जिन संस्थाओं ने हमें बुलंदियों तक पहुंचाया उन सभी को करीब-करीब खत्म कर दिया गया है। 65 साल में बड़ी मेहनत से तैयार जन कल्याण के बुनियादी ढांचे और समावेशी ताने-बाने को खत्म करने में इस सरकार ने कोई कसर बाकी नहीं रखी है।’
उन्होंने कहा, ‘आज हमें देशभक्ति की नई परिभाषा सिखाई जा रही है, विविधता को अस्वीकार करने वालों को देशभक्त बताया जा रहा है, जबकि धर्म और विचारधारा के आधार पर अपने ही नागरिकों से भेदभाव को उचित ठहराया जा रहा है। हमसे उम्मीद की जा रही है कि खान-पान, पहनावे, भाषा और अभिव्यक्ति की आजादी के मामले में कुछ लोगों की मनमानी हम बर्दाश्त करें। वर्तमान सरकार असहमति का सम्मान करने को राजी नहीं है। जब अपनी आस्था पर टिके रहने की वजह से लोगों पर हमले होते हैं तो सरकार क्या करती है। सरकार अपना मुंह फेर लेती है। कानून का राज लागू करने का अपना बुनियादी फर्ज पूरा करने को सरकार तैयार नहीं है…

sg

https://navbharattimes.indiatimes.com/india/those-who-do-not-accept-diversity-are-being-called-patriots-today-says-sonia-gandhi/articleshow/68752497.cms

राहुल गांधी ने वायनाड से किया नामांकन

दक्षिण भारत में लोकसभा चुनाव की लड़ाई अब दिलचस्प हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को अपनी दूसरी संसदीय सीट केरल के वायनाड से नामांकन दाखिल कर दिया. राहुल के साथ उनकी बहन और पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी प्रभारी प्रियंका वाड्रा गांधी मौजूद थीं. यहां पर राहुल का सीधा मुकाबला लेफ्ट पार्टियों से है.

राहुल आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के अपने पैतृक गढ़ अमेठी के साथ-साथ वायनाड से भी चुनाव लड़ रहे हैं. नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल गांधी ने यहां बड़ा रोडशो भी किया.

राहुल प्रियंका के अलावा केसी वेणुगोपाल तथा मुकुल वासनिक सहित कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ नामांकन-रोडशो में शामिल हुए. जिला मुख्यालय में उन्होंने जिला कलेक्टर एआर अजय कुमार को अपने दस्तावेज सौंपे. कांग्रेस प्रमुख की हाई प्रोफाइल यात्रा के मद्देनजर कलक्ट्रेट कार्यालय के आसपास कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी.

चिलचिलाती गर्मी के बीच, यहां महिलाओं और युवाओं सहित पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं ने पार्टी के झंडे लहराए और नारे लगाए. नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी के साथ एक खुले वाहन में रोडशो शुरू किया..

images

https://aajtak.intoday.in/story/rahul-gandhi-kerala-wayanad-nomination-lok-sabha-elections-2019-smriti-irani-1-1073121.html

कांग्रेस ने जारी किया चुनाव घोषणा पत्र ‘जन आवाज’ जारी, ये रही 10 मुख्य बातें

नई दिल्ली: देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र को ‘हम निभाएंगे’ का टाइटल दिया है। इस घोषणापत्र को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार दोपहर 12.45 बजे जारी किया और कहा कि घोषणा पत्र के 5 मुख्य बिंदू हैं। कांग्रेस के घोषणापत्र में इस बार न्यूनतम आय योजना (न्याय) को शामिल किया गया है, इस योजना के तहत गरीबों के खाते में हर साल 72000 रुपए डाले जाने का वादा किया गया है।
घोषणा पत्र जारी करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी का दूसरा थीम रोजगार है। देश में युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। दो करोड़ रोजगार नहीं मिले। 22 लाख सरकारी रोजगार, उनको कांग्रेस मार्च 2020 तक भरकर दे देगी। 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार देगी। 3 साल के लिए देश के युवाओं को बिजनस खोलने के लिए किसी से कोई इजाजत नहीं लेनी होगी। राहुल गांधी ने कहा कि उनकी सरकार मनरेगा के तहत दिए जाने वाले रोजगार को भी बढ़ाएगी और मौजूदा सालाना 100 दिन की जगह 150 दिन का रोजगार दिया जाएगा

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर कांग्रेस के घोषणापत्र में कहा गया है कि राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद और NSA के आफिस को वैधानिक आधार प्रदान करेगी। ये सब संसद के प्रति जवाबदेह होंगे।

कांग्रेस के घोषणा पत्र की 10 मुख्य बातें इस तरह से हैं

1.5 करोड़ गरीब परिवारों के खाते में सालाना 72000 रुपए
2.मनरेगा के तहत रोजगार 100 दिन से बढ़ाकर 150 दिन किया जाएगा
3.मार्च 2022 तक 22 लाख सरकारी पद भरेंगे
4.10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायतों में रोजगार दिया जाएगा
5.राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को संसद के दायरे में लाएंगे
6.GST को आसान करेंगे
7.कर्ज वापस नहीं करने पर किसान के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई नहीं
8.शिक्षा पर बजट का 6 प्रतिशत होगा खर्च
9.रेल बजट की तरह किसानों के लिए अलग से बजट पेश किया जाएगा
10.स्वास्थय सेवाओं को बेहतर किया जाएगा

lgrpj2sg_congress-manifesto-2019_625x300_02_April_19